Eco-Friendly दिवाली क्या है और इसे कैसे मनाया जाता है? | Eco Friendly Diwali 2023

क्या आप जानते हैं Eco Friendly Diwali 2023 क्या है? दिवाली के बारे में तो आप सभी जानते ही होंगे लेकिन शायद ही कोई व्यक्ति होगा जो इस बात से वाकिफ हो कि ईको फ्रेंडली Diwali कैसे मनाई जाती है। साल का सबसे बहुप्रतीक्षित त्योहार दिवाली बहुत जल्द आने वाला है। यह उत्सव का शुभ अवसर खुशियां फैलाने, जीवन को रोशन करने और मानवीय बंधनों को पूरा करने वाला है।

Eco Friendly Diwali
Eco Friendly Diwali

लेकिन हमने इस त्योहार को बहुत ही खतरनाक बना दिया है जिसमें हवा noise pollution जैसी कई समस्याएं पैदा करती है। इन दिनों लोगों को fresh हवा मिलना बहुत मुश्किल होता है।

खासकर ऐसे कारणों से सलाह दी जाती है कि इस दिवाली आप भी Eco friendly Diwali मनाएं। इन environmentally friendly के अनुकूल तरीकों का पालन करने से न केवल यह आपके लिए अच्छा है, बल्कि इससे हर किसी को भी फायदा होता है। तो आइए जानते हैं कुछ ऐसे तरीकों के बारे में जिससे हम सभी इस साल eco-friendly Diwal मना सकें।Eco Friendly Diwali

उत्सव, रोशनी, मिठाई, उपहार, प्यार, स्नेह, परिवार और पड़ोसी – ये ऐसी चीजें हैं जो वास्तव में Diwali का वर्णन करती हैं। इस समय पूरे देश में एक अलग ही माहौल होता है जहां हर कोई इसे हर्षोल्लास और उत्साह के साथ मनाता है।

लेकिन जैसे-जैसे हम develop कर रहे हैं, हम अधिक chemicals का उपयोग करते हैं, इसमें हम पटाखों, फुलझड़ियों जैसे कई रासायनिक पदार्थों को शामिल करते हैं। इनका हमारे पर्यावरण पर बहुत बुरा impact पड़ता है।Eco Friendly Diwali

तभी तो चारों ओर Eco-friendly diwali का बड़ा craze है, लेकिन लोगों को इसके बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं है और यह भी नहीं जानते कि Eco Friendly दिवाली कैसे मनाई जाती है।

इसलिए आज मैंने सोचा कि क्यों न आप लोगों को Eco Friendly दिवाली कैसे मनाएं इसके बारे में कुछ जानकारी प्रदान की जाए। तो बिना देर किये चलिए शुरू करते हैं.

ईको फ्रेंडली दिवाली 2022 क्या है?

Eco Friendly 2022 दिवाली उसे कहते हैं जिसमें Environmentally friendly तरीके से दिवाली मनाई जाती है। इसका मतलब यह है कि दिवाली इस तरह मनाई जानी चाहिए कि पर्यावरण को कोई नुकसान न हो।

दिवाली को अच्छे और सही तरीके से कैसे मनाएं?

इसमें किसी तरह के chemicals,, पटाखे और ऐसी चीजों का इस्तेमाल नहीं किया जाता है जिससे प्रदूषण फैलता हो। इससे हमारा पर्यावरण भी सुरक्षित रहता है। आजकल हर कोई Eco Friendly Diwali  मनाने की सलाह देता है।

कैसे मनाएं इको फ्रेंडली दिवाली

तो आइए जानते हैं कुल 12 तरीके जिनके इस्तेमाल से हम इस दिवाली को ज्यादा noiseless,, प्रदूषण मुक्त (pollution free) और यादगार तरीके से मना सकते हैं।Eco Friendly Diwali

  • सबसे पहले पटाखों (crackers) को ‘ना’ 

वैसे तो पटाखों से कुछ भी अच्छा नहीं होता है, क्योंकि ये शोरगुल वाले, तेज, खतरनाक होते हैं और साथ में ये मौजूदा प्रदूषण में अनावश्यक योगदान देते हैं।

इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए और पर्यावरण पर इनके बुरे प्रभाव को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने Delhi-NCR इलाके में एक नवंबर तक पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी है.Eco Friendly Diwali

  • मिट्टी के दीयों का प्रयोग करें

हमारी परंपरा में इस्तेमाल होने वाले मिट्टी के दीये से बेहतर कोई दीया नहीं है। भले ही हम उन्हें पुराने रीति-रिवाजों के नाम पर अब इस्तेमाल न कर रहे हों।

लेकिन ऐसा करके आप न केवल धरती माता और हमारे पर्यावरण के लिए अच्छा काम कर रहे हैं, बल्कि इनका इस्तेमाल कर आप local कारीगरों को उनके रोजगार में मदद कर रहे हैं।

इसके साथ ही आप अपने आस-पास के schools और colleges में दीया paintings जैसी कई fun activities का भी organize कर सकते हैं। इससे बच्चे मिट्टी के दीये का महत्व जानेंगे।

  • Organic Colours से रंगोली बनाएं

इस दिवाली आप अपने घर और आसपास के इलाकों में chemical colors की जगह organic colors से रंगोली बना सकते हैं. इसमें आप कई तरह के फूल, scenaries, लक्ष्मी माता के चित्र आदि बना सकते हैं जो आपको आनंदित करेंगे।

  • अपने पालतू जानवरों की रक्षा करें

दिवाली जैसे त्यौहार आपके पालतू जानवरों के लिए भयानक हो सकते हैं। क्योंकि उन्हें ऐसी भयानक आवाज का अनुभव नहीं होता है, जिसके कारण इन आवाजों को सुनकर उन्हें बहुत कष्ट उठाना पड़ सकता है।Eco Friendly Diwali

इससे वे डर भी सकते हैं और इधर-उधर भाग सकते हैं जिससे उनके साथ दुर्घटना होने की संभावनाएं बनी रहती हैं। ऐसे में खुद भी पटाखे न जलाएं और अपने पड़ोसियों से भी कहें कि पटाखे न जलाएं या हो सके तो कम शोर वाले पटाखे जलाएं।

  • अपने घर को सही तरीके से सजाएं

यह सोचना बिल्कुल गलत है कि बाहर से कीमती सामान लाकर ही घर को सजाया जा सकता है। क्यों आप अपनी पुरानी चीजों को सही तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं और उन्हें नया लुक दे सकते हैं।

ऐसे में इंटरनेट आपकी बहुत मदद कर सकता है क्योंकि इंटरनेट में ऐसे कई DIY आईडिया मौजूद हैं जिन्हें कोई भी आसानी से इस्तेमाल कर सकता है। आपको बस उन्हें ढूंढना है और उन्हें अपने घर में सजाना है।

  • अपनी पुरानी चीजें किसी जरूरतमंद को दान कर दें

दिवाली में सभी अपने घरों की साफ-सफाई जरूर करते हैं। ऐसे में अगर आप भी ऐसा करते हैं तो हो सकता है कि आपके घर में कुछ ऐसी चीजें निकल जाएं जो पुरानी हों और आप उनका इस्तेमाल न करते हों।

हो सकता है कि यह आपके काम न आए, लेकिन वह भी बहुतों के भाग्य में नहीं होता। तो इस दिवाली हम ऐसी चीजों को बाहर न फेंके, किसी को दे दें ताकि वो इस दिवाली को अच्छे से बिता सकें।

  • एक NGO में स्वयंसेवक

दिवाली मनाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप किसी ऐसे एनजीओ में जाकर रजिस्ट्रेशन कराएं जो ऐसी जगहों पर जाता है जहां उसके पास दिवाली मनाने के लिए पैसे नहीं होते हैं।

ऐसे में अगर आप इन एनजीओ का हिस्सा बन जाते हैं, तो आप निश्चित रूप से इन सभी का आनंद ले सकते हैं और लोगों को बेहद करीब से जान सकते हैं।

  • मिठाई और उपहार के लिए प्लास्टिक का प्रयोग न करें

आइए इस दिवाली उपहार और खाद्य सामग्री पैक करने के लिए हस्तनिर्मित पेपर रैपिंग का उपयोग करने का संकल्प लें।

  • Waste को ठीक से Discard करे

किसी भी त्यौहार के समाप्त होने के बाद बहुत से अपशिष्ट पदार्थ बाहर निकल आते हैं। पटाखे हों या कोई घर की साज-सज्जा, सभी से बहुत सारा कचरा निकलता है।Eco Friendly Diwali

इसलिए इस दिवाली कचरे को ठीक से फेंक दें और उन्हें अलग-अलग बायो-डिग्रेडेबल और नॉन-बायो-डिग्रेडेबल कचरे में बांट कर रखें। इससे इनके निस्तारण में भी दिक्कत नहीं होगी और गंदगी भी इधर-उधर नहीं फैलेगी।

  • घर पर ही मिठाइयां बनाएं और बांटें

अगर आपके पास पैसा है तो आप आसानी से बाजार से मिठाई खरीद सकते हैं। लेकिन इसमें कोई मज़ा नहीं है क्योंकि जो मज़ा घर में परेशान होकर और घरवालों के साथ मज़ाक करके करने में है, वो बाज़ार से ख़रीदने में नहीं है।Eco Friendly Diwali

इसलिए सारी सामग्री लाकर घर पर ही मिठाई बना लें और अपने पड़ोसियों को बांटकर खाएं। इससे प्रेम और स्नेह बढ़ता है।

  • अपना सामान Recycle करें

इस्तेमाल के बाद दीयों को बाहर न फेंके, इससे गंदगी बढ़ती है। बल्कि आप इन्हें साफ करके दोबारा इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपका पैसा भी बचेगा और ज्यादा गंदगी भी नहीं फैलेगी।Eco Friendly Diwali

  • अपने उपहारों को Innovate करें

इस दिवाली अपने दिवाली उपहारों में कुछ Innovate करें और मिठाई के डिब्बे के बजाय कुछ ऐसा दें जो लोगों के लिए सही हो।

जहां अधिक मीठा खाने से cholesterol और diabetes का risk बढ़ जाता है, इसलिए यह उचित है कि आप कुछ स्वस्थ विकल्पों की तलाश करें जैसे वायु शुद्ध करने वाले पौधे, फेंगशुई के पौधे, रसोई के पौधे, सौर ऊर्जा के उपकरण, कपड़े के स्थान पर खादी बादाम, या मिठाई आदि। .Eco Friendly Diwali

आज आपने क्या सीखा

मुझे आशा है कि मैंने आपको बताया है कि पर्यावरण के अनुकूल दिवाली कैसे मनाई जाए? के बारे में पूरी जानकारी दी और मुझे उम्मीद है कि आप लोग समझ गए होंगे कि ईको फ्रेंडली दिवाली क्या होती है।Eco Friendly Diwali

Leave a Comment

%d bloggers like this: