राहु काल का समय के बारे मे जानें आपने दिन के अनुसार

भारतीय ज्योतिष में नौ ग्रहों की गणना की जाती है,शुक्र, मंगल, गुरु, शनि, राहु, सूर्य, चंद्रमा, बुध, और केतु। जिसमें राहु राक्षसी सांप का सिर है जो हिंदू शास्त्रों के अनुसार सूर्य या चंद्रमा को निगलने वाला एक ग्रहण पैदा करता है। राहु तमस एक असुर है। राहु का कोई सिर नहीं है और वह आठ काले घोड़ों द्वारा खींचे गए रथ की सवारी कर रहा है।

जानिए रोहिणी नक्षत्र के बारे

राहु काल का समय, जानें दिन के अनुसार
राहु काल का समय

ज्योतिष में राहु काल को अशुभ माना जाता है। इसलिए इस अवधि में शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं। यहाँ सप्ताह के दिनों के आधार पर राहुकाल का समय है, जिसके द्वारा आप अपने दैनिक कार्य कर सकते हैं।

राहु काल rahu kaal का समय

वार 

राहु काल का समय 

रविवार

सायं 4:30 से 6:00 बजे तक।

सोमवार

प्रात:काल 7:30 से 9:00 बजे तक।

मंगलवार

अपराह्न 3:00 से 4:30 बजे तक।

बुधवार

दोपहर 12:00 से 1:30 बजे तक।

गुरुवार

दोपहर 1:30 से 3:00 बजे तक।

शुक्रवार

प्रात:10:30 से दोपहर 12:00 तक।

शनिवार 

प्रात: 9:00 से 10:30 बजे तक।

श्री हनुमान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *